saket-collage

अयोध्या के राम मनोहर लोहिया विश्वविद्यालय के साकेत महाविद्यालय में छात्र संघ चुनाव को लेकर छात्रों का आंदोलन लगातार जारी है. छात्र संघ चुनाव को लेकर प्रदर्शन कर रहे छात्रों पर आज पुलिस ने बर्बर तरीके से लाठीचार्ज किया है. पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे छात्रों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा है.

खबर है कि छात्र संघ चुनाव को लेकर आंदोलन कर रहे 5 छात्रों को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया है. जिनके नाम है हार्दिक यादव, अजय मिश्रा, अंकित, दीपक और अनीश गुप्ता है.

पुलिस की इस बर्बरतापूर्वक लाठीचार्ज और फिर 4 छात्रों की गिरफ्तारी को लेकर साकेत महाविद्यालय के छात्र रोहित यादव बताते हैं कि पहले छात्रों को गिरफ्तार कर अयोध्या कोतवाली ले जाया गया फिर कैंट थाने ले जाया गया. अभी छात्रों का मेडिकल चल रहा है शायद जेल भेज दिया जायेगा.

पहले भी कुछ छात्रों पर फर्जी राष्ट्रद्रोह मुकदमा करने की हुई थी साज़िस
इसके पहले भी साकेत महाविद्यालय में छात्र संघ चुनाव को लेकर कोई निर्णय न लिए जाने के विरोध में प्रदर्शन हुआ था. जिसमें छात्रों ने विश्वविद्यालय प्रशासन से आजादी के नारे लगाए थे, वो नारा था “हमको चाहिए आज़ादी” जिसके बाद कुछ छात्रों पर फर्जी राष्ट्रद्रोह मुक़दमे में फ़साने की साज़िस की गई थी.

पुलिस ने धारा 144 का दिया हवाला
बर्बर लाठी चार्ज को लेकर अयोध्या के सीओ राजेश कुमार राय ने बताया कि, यह बच्चे छात्र संघ चुनाव को लेकर मांग कर रहे थे और जो वर्तमान में आप को भी मालूम है कि धारा 144 लगी हुई है. कल भी लोगों को बताया गया था कि इस प्रकार की रैली, प्रदर्शन ना करें. जो भी आपकी मांगे हैं, आपके जो नेता दो चार लोग हैं, वह आकर इस संबंध में वार्ता कर ले और इस चुनाव के संबंध में हम भी वरिष्ठ अधिकारियों से वार्ता करेंगे.

प्रशासन ने दिया धोखा
जबकि लाठीचार्ज को लेकर रोहित बताते हैं कि प्रशासन ने आज 12 बजे छात्रसंघ चुनाव को लेकर तिथि निर्धारित करने की घोषणा की थी. जब छात्र वहाँ पहुँचे तो लाठीचार्ज हो गया.